22 October 2015

गोलवां में सवा करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले रेस्ट हाउस का हुआ शिलान्यास

लडभड़ोल : जलशक्ति, बागवानी, राजस्व एवं सैनिक कल्याण मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने आज जोगिन्दर नगर विधान सभा क्षेत्र के अंतर्गत गोलवां में लगभग सवा करोड़ रूपये की लागत से निर्मित होने वाले जलशक्ति विभाग की निरीक्षण कुटीर (विश्राम गृह) की आधारशिला रखी। इस मौके पर जोगिन्दर नगर के विधायक प्रकाश राणा भी मौजूद रहे।

इस अवसर पर उपस्थित भारी जन समूह को संबोधित करते हुए महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि जयराम ठाकुर सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल में अकेले जोगिन्दर नगर विस क्षेत्र में ही जलशक्ति विभाग के माध्यम से लगभग 224 करोड़ रूपये की राशि व्यय की जा रही है। जिनमें 40 करोड़ रूपये की मैन भरोला पेयजल योजना, नेरी-लांगणा व आसपास की पंचायतों के लिए 28 करोड़ रूपये, ब्यूंह नौहली के लिए 10 करोड़, सिमस-ऊटपुर-सांढ़ा के लिए 3.80 करोड़ तथा तुलाह-कोठी के लिए 3.70 करोड़ रूपये की पेयजल योजनाएं जबकि लडभड़ोल क्षेत्र के लिए 42 करोड़ तथा चौंतड़ा क्षेत्र के लिए लगभग 50 करोड़ रूपये की सिंचाई योजनाएं तथा बाढ़ नियंत्रण के लिए 30 करोड़ रूपये की 4 स्कीमें शामिल हैं।

महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि साढ़े 6 हजार करोड़ रूपये के हिमाचल शिवा (सब-ट्रापिकल हार्टिकल्चर एंड वेल्यु एडिडशन) प्रोजैक्ट के माध्यम से प्रदेश के निचले क्षेत्रों के किसानों व बागवानों की आर्थिकी को मजबूत बनाने में सहायक सिद्ध हो रहा है। उन्होने बताया कि शिवा प्रोजैक्ट के माध्यम से किसानों व बागवानों को सरकार की ओर से जहां सस्ती दरों पर पौधे, सिंचाई तथा सोलरयुक्त बाड़बंदी की सुविधा प्रदान की जा रही है तो वहीं तैयार उत्पादों के एकत्रीकरण को कलेक्शन सेंटर तथा प्रसंस्करण इकाईयां भी स्थापित की जाएंगी।

उन्होने जोगिन्दर नगर क्षेत्र के किसानों व बागवानों से इस योजना का लाभ उठाने का आहवान किया है ताकि बागवानी के माध्यम से उनकी आर्थिकी में व्यापक बदलाव लाया जा सके। उन्होने नौजवान पीढ़ी से पारंपरिक खेती-बाड़ी से बाहर निकलकर बागवानी की आधुनिक तकनीकों को अपनाते इसे बतौर स्वरोजगार अपनाने पर बल दिया तथा कहा कि बागवानी से जुडऩे वालों को सरकार हरसंभव मदद प्रदान कर रही है।

उन्होने एसडीएम जोगिन्दर नगर को जोगिन्दर नगर उपमंडल के अंतर्गत पुराने पटवार व कानूनगो भवनों की एक सूची जल्द उपलब्ध करवाने के निर्देश भी दिए ताकि ऐसे भवनों को एकमुश्त 12-12 लाख रूपये की धनराशि नए भवन निर्माण को जारी की जा सके। उन्होने कहा कि धर्मपुर व जोगिन्दर नगर विस क्षेत्र को जोडऩे वाले सांढ़ा पतन पुल के निर्माण कार्य की वे स्वयं निगरानी कर रहे हैं तथा जल्द ही निर्माण कार्य पूर्ण होने पर इसे जनता को समर्पित किया जाएगा। साथ ही कहा कि ब्यास नदी के ऊपर कोठी पतन पर लगभग 25 करोड़ रूपये की लागत से एक नए पुल का निर्माण विचाराधीन है इसकी स्वीकृति मिलते ही इसका भी शिलान्यास करवाया जाएगा। साथ ही कहा कि इस क्षेत्र की पूर्ण हो चुकी पेयजल योजनाओं का जल्द लोकार्पण भी किया जाएगा ताकि लोगों को इनका लाभ मिल सके।

प्रकाश राणा के रूप में जोगिन्दर नगर को मिला है हीरा, विकास को मिली है रफतार

उन्होने कहा कि जयराम ठाकुर सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल में जोगिन्दर नगर विस क्षेत्र को विकास की कई परियोजनाओं की सौगात मिली है। जिसमें जलशक्ति विभाग का मंडलीय कार्यालय, एचआरटीसी का बस डिपो, लडभड़ोल के आईटीआई व सिविल अस्पताल तथा मकरीड़ी के लिए उप-तहसील का तोहफा शामिल है।

उन्होने विधायक प्रकाश राणा के नेतृत्व में जोगिन्दर नगर विस क्षेत्र मेें हो रहे विकास कार्यों की प्रशंसा की तथा कहा कि विधायक प्रकाश राणा के तौर पर इस क्षेत्र को एक हीरा मिला है जो न केवल इस क्षेत्र की सेवा के लिए निरन्तर तत्पर हैं बल्कि अपने वेतन व भत्ते भी ट्रस्ट को देकर इस क्षेत्र की सेवा में लगे हैं। उन्होने कहा कि विधायक प्रकाश राणा ने वेतन भत्ते जनता को समर्पित कर हिमाचल प्रदेश में एक अनूठा उदाहरण प्रस्तुत किया है।

जोगिन्दर नगर के विकास में मुख्य मंत्री व जलशक्ति मंत्री का विशेष योगदान-प्रकाश राणा
इससे पहले विधायक प्रकाश राणा ने कहा कि जोगिन्दर नगर के विकास में मुख्य मंत्री जयराम ठाकुर तथा जलशक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर का विशेष योगदान है। जिसके लिए वे जोगिन्दर नगर क्षेत्र की समस्त जनता की ओर से आभार व्यक्त करते हैं। उन्होने कहा कि जय राम ठाकुर सरकार के कारण ही आज जोगिन्दर नगर की वर्षों पुरानी मांगें पूरी हुई है जिनमें एचआरटीसी का बस डिपो व जलशक्ति विभाग का मंडलीय कार्यालय प्रमुख है। इसके अलावा विभिन्न विभागों के माध्यम से भी करोड़ों रूपये के विभिन्न विकास कार्य किये जा रहे हंै जिनमें अकेले जलशक्ति विभाग के माध्यम से ही 224 करोड़ रूपये की राशि व्यय हो रही है। इससे पहले गोलवां पहुंचने पर जलशक्ति मंत्री का विधायक प्रकाश राणा व स्थानीय लोगों ने जोरदार स्वागत किया।

इस मौके पर निरीक्षण कुटीर निर्माण को जमीन दान करने वाले संतोष कुमार को शॉल व टोपी भेंट कर सम्मानित किया तथा उनके इस प्रयास की सराहना की। इस अवसर पर विधायक प्रकाश राणा की धर्मपत्नी रीमा राणा, जिला पार्षद ममता भाटिया, विजय भाटिया, बीडीसी की अध्यक्ष रमा देवी, एसडीएम अमित मैहरा, जलशक्ति विभाग के मुख्य अभियन्ता धर्मेन्द्र गिल सहित विभिन्न पंचायतीराज संस्थाओं के प्रतिनिधि, विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं अन्य गण्यमान्य लोग उपस्थित रहे।










loading...
Post a Comment Using Facebook