BREAKING
  • लडभड़ोल क्षेत्र में कई दिनों बाद निकली धूप, मौसम हुआ एकदम साफ़, लोगों को मिली भारी बारिश से राहत
  • लडभड़ोल : तहसील मुख्यालय लडभड़ोल की स्थानीय ग्राम पंचायत भड़ोल के गवाला गाँव में जंगली मधुमखियों के हमले में सात लोग घायल हो गए है। घायलों में एक आठ वर्षीय बालिका समेत चार लोग एक ही परिवार के हैं। सभी घायलों को लडभड़ोल के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जहां उनका उपचार चल रहा है।

    यह हुए घायल
    जानकारी के अनुसार भड़ोल पंचायत के गांव गवैला निवासी राणी देवी 60 वर्ष पत्नि रुप सिंह, प्रभात सिंह 35 वर्ष पुत्र रुप सिंह, रिनू देवी 32 वर्ष पत्नि प्रभात सिंह, परी देवी आठ वर्ष स्पुत्री प्रभात सिंह (चारों एक ही परिवार के सदस्य), अन्जू देवी 40 वर्ष पत्नि संजय कुमार ये पांचों लोग रविवार दोपहरबाद गांव के साथ लगते खेतों से घास लाने गए थे तो उनपर अचानक जंगली मधुखियों ने हमला कर दिया।

    छुड़ाने गए युवकों पर भी किया हमला
    इन लोगों के जोर-जोर से चिल्लाने पर गांव के कुछ युवा खेतों की ओर भागे और मखियों के चंगुल से इन्हें छुड़ाने लगे। इसी बीच मखियों ने दो और युवाओं सिकंद्र 28 वर्ष पुत्र मेहर सिंह व त्रसेम लाल 47 वर्ष पुत्र ठैम्पा राम भी को अपना शिकार बना डाला और उभ्हें भी घायल कर दिया। गांव वासियों द्वारा सभी घायलों को उपचार के लिये लडभड़ोल के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां पर मौजूद डाक्टर रोहित चौहान, स्टाफ नर्स रेखा देवी द्वारा घायलों का उपचार किया गया।

    घायलों में 8 वर्षीय बच्ची भी शामिल
    इसी दौरान क्लास फोर काकू राम और 108 एम्बुलेंस के चालक राजेश कुमार व इएमटी जालपा देवी ने भी चिकित्सकों के साथ घायलों का उपचार करने में मदद की। जंगली मधुमखियों के हमले से घायल सात लोगों में से एक आठ वर्षीय बच्ची व उसकी दादी 60 वर्षीय राणी देवी ने को गंभीर रुप से घायल किया है जबकि अन्य लोगों के शरीर पर मखियों ने जगह-जगह काटकर घायल किया है। अस्पताल के कर्मचारियों द्वारा उपचार के दौरान भी करीब एक दर्जन से अधिक मखियों को घायलों के सिर के बालों से निकाला गया जिनमें कई मखियां जिंदा थी।

    1 रेफर, बाकियों को मिली छुट्टी
    डाक्टर रोहित चौहान ने बताया कि जंगली मखियों के हमले से घायल हुई राणी देवी जो गंभीर रुप से घायल हुई है के स्वास्थ्य में सुधार नही हुआ इसलिए उन्हें पालमपुर अस्पताल रैफर किया गया है जबकि अभी खबर लिखे जाने तक सभी घायलों को लडभड़ोल के अस्पताल से उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी है। चौहान ने बताया कि उपचाराधीन लोगों के स्वास्थ्य की जांच करने के बाद ही अस्पताल से उन्हें छुट्टी दी गयी है।

    गाँव में दहशत
    उधर माधुमखियों के हमले से एक साथ घायल हुए सात लोगों के बाद समूचे गांव में दहशत का माहौल है घायलों के साथ आए गांव गवैला व दूसरे गांव के कई लोग अस्पताल में भी घबराए हुए थे। फ़ोटो मे जंगली मधुमखियों के हमले से घायल हुए गवैला गांव के लोगों का लडभड़ोल के असपताल में
    उपचार करते चिकित्सक।

    देखें तस्वीरें :

    "
    पिछली खबर अगली खबर

    अपनी राय दें

    लडभड़ोल की अन्य ताजा खबरें

    लेख

    सबसे अधिक पढ़ी गई खबरें


    महत्वपूर्ण नोट : इस वेबसाइट पर दिखाई जाने वाली खबरों का उद्देश्य सिर्फ और सिर्फ लडभड़ोल व आसपास के क्षेत्रों में होने वाली घटनाओ की सुचना लोगों तक पहुंचाना है नाकि किसी की भावनाओ को आहत करना। हमे पूरा यकीन है की इस वेबसाइट पर दिखाई जाने वाली खबरों को सुचना के आदान-प्रदान करने के उदेश्य से ही पढ़ा जायेगा। इस वेबसाइट को उपयोग करने के लिए हमारी नियम और शर्ते जरूर पढ़ ले। अगर आप इन शर्तों से सहमत नही है तो इस वेबसाइट का उपयोग न करे। धन्यवाद। :- अमित बरवाल, संस्थापक, लडभड़ोल.कॉम 


    Designed and Developed by Amit Barwal  (Ootpur)